उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना, आवेदन कैसे करे ? | How to apply for Bhagya lakshmi yojana UP

भाग्यलक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश | भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन कैसे करें | How to apply in Bhagyalakshmi Scheme | वेबसाइट mahilakalyan.up.nic.in

श्री योगी आदित्यनाथ जी जब भारत के सबसे अधिक जनसख्या वाले राज्यों में से एक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने तभी से वहा के निवासियों को महिलाओं के प्रभावी योजना लाने की उम्मीद उठी और मुख्यमंत्री जी ने अपने 100 दिन के एजंडे में उत्तर प्रदेश को भाग्यलक्ष्मी योजना प्रदान की,जिसका उद्देश्य प्रदेश में महिलाओ का कम होते हुए लिंग अनुपात और बढ़ती हुई भ्रूण हत्या पर रोक लगाना है।

भाग्यलक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश – Bhagya lakshi Yojana

इस योजना के अंतर्गत माँ को बच्ची की शिक्षा और देखभाल के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। योजना के तहत लड़कियों को 50 हजार रुपए की राशि उनके जन्म पर प्रदान की जाएगी और बच्ची की मां के नाम पर 51,00 रुपये प्रदान किये जायेगे। इस भाग्यलक्ष्मी योजना को ‘मनी फॉर गर्ल चाइल्ड’ योजना भी कहा जाता है।

प्रधानमंत्री योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के कदमो पर चलते हुई योगी जी ने भाग्य लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश के महिला निवासिओं के लिए एक वरदान साबित हुई है इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे वाले लोग इस योजना का लाभ उठा सकते है। Bhagya lakshmi yojana जन्म पर आर्थिक लाभ के साथ साथ उसकी पढाई से लेकर 21 साल की आयु तक भी आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

Bhagya lakshmi yojana objectives

इस योजना का उद्देश्य लड़कियों के गिरते अनुपात को कम करना है और प्रदेश में लड़कियों के प्रति सोच में बदलाव करना है। सरकार उन्हें आर्थिक सहायता दे कर उसकी लड़की के जन्म पर व उसके बाद भी ये मैसेज देना चाहती है की वो भी उसके साथ है और लड़की के पालन पोषण और पढाई के लिए उनकी मदत करेगी।

भाग्यलक्ष्मी योजना योजना के मुख्य घटक- Highlights of Bhagya lakshmi Scheme

  • उत्तर प्रदेश में गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों में बालिकाओं के जन्म को बढ़ावा देना व कम होते हुए लिंग अनुपात और बढ़ती हुई भ्रूण हत्या पर रोक लगाना।
  • भाग्यलक्ष्मी योजना का लाभ लेने के लिए जन्मी बिटिया का पंजीकरण एक साल के अंदर करवाना होगा
  • यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार के महिला कल्याण विभाग द्वारा चलायी जाएगी।
  • बेटी के जन्म पर 50000 की राशि बच्ची को और 5100 रुपए की राशि बच्ची की मां को इस योजना के तहत प्रदान की जाएगी।

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना-How to apply-

  • बच्ची की कक्षा 6 में पहुंचने पर 3000 रुपए की राशि , कक्षा 8 में पहुंचने पर 5000 रुपए की राशि ,कक्षा 10 में पहुंचने पर 7000 रुपए की राशि ,कक्षा 12 में पहुंचने पर 8000 रुपए की राशि भी दान की जाएगी।इसके लिए बच्ची का किसी भी सरकारी स्कूल में प्रवेश लेना और अपनी शिक्षा जारी आवयशक है।
  • बच्ची के 21 साल की उम्र पार करने के बाद शादी के लिए उन्हें 2 लाख रूपये की भी आर्थिक सहायता भी दी जाएगी।
  • पढ़ाई के समय राशि प्रदान करने का मकसद बेटी के जन्म के बाद उनको पढ़ना लिखाना भी है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए एक परिवार में लड़कियों की संख्या 3 से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • गरीबी रेखा से नीचे के परिवार वे परिवार है जिनकी वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम
  • इस योजना की शुरूआत साल 2006-2007 में की गयी थी . यूपी में विधानसभा चुनाव में भाजपा की सरकार में श्री योगी आदित्यनाथ जी के मुख्यमंत्री बनने के बाद इस इस योजना में मदद की रकम बढ़ा दी गयी है

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना में आवेदन करने के लिए जरुरी दस्तावेज

  • उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए |
  • माता पिता का आधारकार्ड
  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • स्थायी पता
  • आय प्रमाण पत्र
  • जातिप्रमाण पत्र
  • बैंक अकॉउंट का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Eligibility for Bhagya Laxmi Yojana 2020

  • आवेदक की वार्षिक आय 2 लाख से कम हो।
  • अभिभावक उत्तर प्रदेश के निवासी हो
  • लड़की की शादी 18 वर्ष की उम्र के बाद ही करनी होगी।
  • टीकाकरण पूरी तरह से स्वास्थ्य विभाग से करवाना होगा और इसका रिकॉर्ड संभाल कर रखे

भाग्य लक्ष्मी योजना में आवेदन कैसे करें – How to apply in Bhagya lakshmi Scheme 2020

  • उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना का फॉर्म आप सरकार की वेबसाइट पर जा कर डाउनलोड कर सकते है। फॉर्म को डाउनलोड करके जो जानकारी मांगी गयी है उसे भर दे। फॉर्म भरते समय कोई गलती न करे और ध्यानपूर्वक भरे।
  • फॉर्म भर कर आंगनवाड़ी वर्कर या सुपरवाइजर को दे और वहा रजिस्ट्रेशन करवा ले। यह परिक्रिया पूरी तरह से निशुल्क रहेगी। उसके बाद आप महिला कल्याण विभाग के कार्यलय में भी अपना आवेदन फॉर्म दे सकते हैं। 15 दिन के अंदर आप अपनी एप्लीकेशन का स्टेटस महिला कल्याण विभाग के कार्यलय से ले सकते है।

Bhagya lakshmi Yojana Conclusion

उत्तर प्रदेश सरकार ने ये कदम महिलाओं की स्तिथि के विकास के लिए उठाया है। लड़कियों की शादी में दहेज की चिंता गरीब परिवारों के लिए एक समस्या की तरह है। इस वजह से परिवार उनकी पढ़ाई पर खर्च नहीं कर शादी के लिए धन जोड़ता है। सरकार ने bhagya lakshmi yojana के जरिये बच्ची की पढाई और शादी दोनों की तरफ दिया है। यहाँ ध्यान देने वाली बात यह है की यदि बच्ची की 18 साल की उम्र से पहले शादी कराते हैं, तो भी उन्हें इस योजना के अंतर्गत कोई लाभ नहीं मिलेगा।

दोस्तों आशा करता हू आपको सरकार की ये योजना समझ आ गयी होगी। भारत सरकार ने भी बच्चीयो के लिए कुछ योजनाओ की शुरुवात की है। जैसे की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, सुकन्या समृद्धि योजना आदि जिसके बारे में विस्तार से योजना के बारे में इस वेबसाइट पर बताया गया है और पढ़ कर योजना के बारे में पता लगा सकते है।

1 Response

  1. May 25, 2021

    […] Click here for Bhagyalakshmi yojana uttar pardesh Click here for Kanya Sumangala yojanaClick here For Facebook Page […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *