स्टैंड अप इंडिया योजना : जानकारी सरल भाषा में | Standup India Scheme

Standup India Scheme | स्टैंड अप इंडिया योजना |  स्टैंड अप इंडिया के लिए आवेदन | Standup India website 

स्टैंड अप इंडिया योजना  का उद्देश्य कम से कम एक अनुसूचित जाति (एससी) या अनुसूचित जनजाति (एसटी) उधारकर्ता के लिए 10 लाख और 1 करोड़ के बीच बैंक ऋण की सुविधा प्रदान करना है

यह उद्यम विनिर्माण, सेवाओं या व्यापारिक क्षेत्र में हो सकता है। यह लोन ग्रीनफील्ड के क्षेत्र में प्रदान किया जायेगा यानि की प्रोजेक्ट की शुरुवात बिल्कुल नए सिरे से होनी चाहिए ,किसी पुराने बिज़नस के लिए लोन Standup India Scheme के तहत नहीं मिलेगा। सबसे बड़ी जानने योग्य बात ये है ये लोन सिर्फ अनुसूचित जाति (एससी) या अनुसूचित जनजाति (एसटी) व प्रति बैंक शाखा में कम से कम एक महिला उधारकर्ता के लिए है 

स्टैंड अप इंडिया योजना

स्टैंड अप इंडिया लोन के लिए आप तीन तरीको से लोन के लिए अप्लाई कर सकते है वह है स्टैंड अप इंडिया वेबसाइट से,अग्रिम जिला प्रबंधक (Lead District Manager, LDM) के माध्यम से या बैंक की शाखयों से। Standup India scheme का प्रमुख उद्देश्य पिछड़ा वर्ग के लोग हैं सरकार उन्हे कारोबारी लोन देकर कारोबार के क्षेत्र में लाना चाहती है ताकि उनको बोझ तले जिंदगी ना जीने पड़े |और वह अपने पैरों पर खड़े होकर अपना कारोबार सही तरीके से कर सके। इस सरकारी योजना से ऐसे उद्यमियों को बड़ी संख्या में लाभ मिलने की संभावना है।जिससे देश भर में रोजगार भी बढ़ेगा।आइये नज़र डालते है इसके कुछ मुख्य पहलुओं पर।

Objective of startup India scheme

इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जाति, पिछड़े वर्ग, जनजातियों और महिला उद्यमियों को लोन देकर उन्हें आत्म निर्भर बनाना है ताकि वो लोन प्राप्त कर अपना रोज़गर स्थापित कर सके। इस योजना में बैंको को शामिल कर ये बताया गया है की इस श्रेणी के लिए लोन को उपलब्ध करना है वो बिना सोचे समझे इसके लिए मना नहीं कर सकते।

स्टैंड-अप इंडिया योजना

 

StandUp India Scheme Important Information

  • इस सरकारी योजना के अंतर्गत उधारकर्ता के लिए 10 लाख और 1 करोड़ के बीच बैंक ऋण की सुविधा प्रदान करना है।
  • उधारकर्ताका 18 वर्ष से अधिक आयु के एससी / एसटी और / या महिला उद्यमी का होना जरुरी है  या  कारोबार की  51% शेयरहोल्डिंग या नियंत्रण हिस्सेदारी SC/ ST या महिला की होनी चाहिए।
  • इस Standup India Scheme के अंतर्गत बैंको को निर्देश दिए गए है की बैंक प्रति बैंक शाखा में कम से कम एक महिला उधारकर्ता को लोन जरूर दे।
  • यह लोन सिर्फ नए प्रोजेक्ट्स के लिए है ना की किसी पुराने बिज़नस के लिए। किसी पुराने बिज़नेस के तहत इस योजना का लाभ नहीं ले सकते
  • ऋण 18 वर्ष की अधिकतम अवधि के साथ 7 वर्षों में चुकाना होगा।
  • प्रोजेक्ट की कुल लागत की 75% राशि तक का लोन इस योजना से ले सकते है।
  • स्टैंड अप इंडिया योजना के अंतर्गत 10 लाख से कम राशि का लोन नहीं ले सकते। (10 लाख से कम राशि के लोन के लिए आप सरकार की किसी दूसरी स्कीम देख सकते है जैसे की मुद्रा योजना। )
  • 10 लाख तक की कार्यशील पूंजी (working  capital ) को आप ओवरड्राफ्ट सुविधा के माध्यम से अनुमोदित कर सकते है। उधारकर्ता की सुविधा के लिए रुपे डेबिट कार्ड जारी किया जाएगा।
  • प्राथमिक सुरक्षा के अलावा, ऋण को स्टैंड-अप इंडिया ऋण (CGFS) के लिए क्रेडिट गारंटी फंड योजना की गारंटी द्वारा लागू किया जायेगा।
  • इस सरकारी योजना पर लागू ब्याज दर MCLR से लिंक रहेगी ये MCLR + 3% (समय-समय पर सरकार / आरबीआई के दिशानिर्देशों के अनुसार परिवर्तन के अधीन) के करीब हो सकती है।
 

स्टैंडअप इंडिया योजना के लिए जरुरी दस्तावेज

  • वोटर कार्ड /पासपोर्ट /ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट फोटो
  • बैंक खाता विवरण
  • घर का पता (बिजली बिल ,टेलीफोन बिल ,आधार कार्ड )
  • कारोबार का पता
  • इनकम टैक्स  return स्टेटमेंट
  • परियोजना रिपोर्ट
  • पार्टनर ऑफ़ कंपनी details  (यदि है तो )

स्टैंडअप इंडिया ऋण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन का तरीका

  • स्टैंड अप इंडिया के तहत लोन लेने के लिए आप ऑनलाइन भी सरकार द्वारा बताई गयी वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते है। वेबसाइट का एड्रेस निचे दिया गया है।

https://www.standupmitra.in/Login

  • Login पेज पर क्लिक करे और एक नयी id new user पर क्लिक कर के बनाये। नयी id से login करे और आवेदन का फॉर्म भरे।  फॉर्म आपके लोन अप्लाई करने वाली बैंक शाखा तक पंहुचा दिया जायेगा। आपका योजना में किसी सहायता के लिए टोल  फ्री  नंबर 18001801111 पर भी फ़ोन कर सकते है। 3-6 सप्ताह में अन्दर आपके लोन पास होने का समय रखा गया है।  लोन अप्लाई किये  गए  बैंक में जा कर भी  आप Stand up India scheme लोन का स्टेटस पता कर सकते है।
 

StandUp India Offline Application

 
  • StandUp India Scheme लोन में ऑफ लाइन आवेदन के लिए आप सीधे जिला प्रबंधक (Lead District Manager, LDM) के माध्यम से या बैंक की शाखयों से संपर्क कर के जरुरी कागजात के साथ  लोन के लिए अप्लाई कर सकते है।
 
  • अभी तक इस स्टैंड अप इंडिया योजना में 53000 से अधिक एप्लीकेशन को लोन की मंजूरी दी जा चुकी है जिसके तहत 8200 करोड़ से अधिक का लोन डिस्बर्स किया जा चुका है। 
 

मुद्रा लोन और स्टैंड अप इंडिया लोन योजना में अंतर – Difference Between Mudra Loan and Standup India Loan

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना गैर-कॉर्पोरेट, गैर-कृषि लघु / सूक्ष्म उद्यमों को 10 लाख तक का ऋण प्रदान करने के लिए शुरू की गई योजना है। जबकि स्टैंड अप इंडिया के तहत लोन की राशि 10 लाख और 1 करोड़ के बीच हो सकती है। मुद्रा लोन के लिए कोई भी व्यक्ति लोन के लिया अप्लाई कर सकता है जब की StandUp India के लिए अनुसूचित जाति (एससी) या अनुसूचित जनजाति (एसटी या महिला का होना आवयशक है

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना की अधिक जानकारी के लिए आप प्रधान धान मंत्री मुद्रा योजना का लेख पढ़ सकते है जो इस वेबसाइट पर उपलब्ध है। अन्य लेख पढ़ने के लिए सर्च ऑप्शन में जाकर सर्च करे।

2 Responses

  1. September 7, 2020

    […] स्टार्टअप इंडिया के लिए मुद्रा लोन या स्टैंड अप इंडिया के तहत लोन के लिए भी अप्लाई कर सकते है। […]

  2. January 7, 2021

    […] Click here for Stand up India Scheme […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *