Rajasthan Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana 2023 | मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना

भारत देश में आधे से ज्यादा आबादी खेती पर निर्भर करती है इसके बावजूद भी किसानों की आर्थिक स्थिति स्थिर नहीं है और ज्यादातर किसान अब भी गरीबी रेखा से नीचे अपना गुजारा बसर कर रहे है। पिछले कई वर्षों से केंद्र और राज्य की सरकारों ने मिल कर ऐसी कई योजनाएं बनाई है जिससे किसानों आय में वृद्धि हो। किसानों को आर्थिक रूप इ समृद्ध बनाने की दिशा में राजस्थान की सरकार ने राज्य के किसानों के लिए मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना लांच की है। Kisan Mitra Urja Yojanaयोजना के तहत प्रदेश में खेती करने वाले किसान को बिजली बिल में अनुदान दिया जायेगा। आज इस आर्टिकल में हम किसान मित्र ऊर्जा योजना में आवेदन की प्रक्रिया, योजना का उद्देश्य, पंजीकरण के लाभ, पात्रता और महत्वपूर्ण दस्तावेज आदि जानकारी विस्तार से पढ़ेंगे।

Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana 2023

किसान मित्र ऊर्जा योजना राज्य के किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने की और एक महत्वपूर्ण कदम कह सकते है। कृषि उपभोक्ता के हित को ध्यान रखते हुए और किसानों की आर्थिक रूप से मदद करने के लिए मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने 17 जुलाई 2021 को इस योजना को लांच किया है। जो लोग इस योजना का लाभ लेना चाहते है वे अपने नजदीकी विद्युत निगम में जा कर अपना आवेदन कर सकते है और इसके अतिरिक्त जल्दी ही पंजीकरण के लिए ऑनलाइन पोर्टल भी लांच किया जा सकता है।

राज्य में जो मीटर्ड किसान उपभोक्ता है उन्हें इस योजना के माध्यम से बिजली बिल में अनुदान दिया जायेगा। ये अनुदान अधिकतम 1000 रुपये प्रति माह और 12000 रुपये प्रति वर्ष होगी। द्विमासिक बिलिंग व्यवस्था के तहत सभी पात्र कृषि उपभोक्ता को विधुत वितरण निगम बिजली का बिल जारी करेगी। सरकार ने इस योजना के संचालन के लिए लगभग 1400 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है।

Rajasthan Kisan Mitra Urja Yojana Key Points

योजना का नाममुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना
लांच की गईराजस्थान सरकार द्वारा
वर्ष17 जुलाई 2021
श्रेणीराज्य सरकारी योजनाएं
लाभार्थीराज्य के मीटर्ड किसान उपभोक्ता
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यकिसान को बिजली बिल में अनुदान देना
लाभ1000 रुपये प्रति माह से लेकर 12000 प्रति वर्ष

राजस्थान किसान मित्र ऊर्जा योजना की शुरुआत

राजस्थान के मीटर कृषि उपभोक्ता को बिजली बिल में सब्सिडी देने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने किसान मित्र ऊर्जा योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के माध्यम से प्रति वर्ष 1450 करोड़ की सब्सिडी किसानों को बिजली बिल में दी जाएगी। इस योजना के माध्यम से किसानों को अपने कृषि खर्च को कम करने में मदद मिलेगी।

ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने बताया की अब तक इस योजना के माध्यम से 11 लाख से अधिक किसानों को लाभ दिया गया है। जिसके तहत 7 लाख से अधिक किसानों का बिजली बिल शून्य हुआ है। इसके अलावा भंवर सिंह भाटी ने बताया की वे सभी घरेलू विधुत उपभोक्ता जिन का बिजली उपयोग 100 यूनिट या इससे कम है उन्हें 50 यूनिट तक की सब्सिडी दी जाएगी। 150 यूनिट तक के उपयोग पर 3 रुपए प्रति यूनिट की सब्सिडी उपलब्ध करवाई जाएगी और जिनका बिजली इस्तेमाल 150 से 300 यूनिट है उन्हें सरकार द्वारा बिजली बिल में 2 रुपए प्रति यूनिट की सब्सिडी दी जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना 2023 के तहत किसानों को तभी लाभ मिल सकेगा जब विधुत वितरण निगम में उनका कोई बकाया ना हो। बकाया रहने की स्थिति में अगर कृषि उपभोक्ता भुगतान कर देता है तो सब्सिडी में मिलने वाली राशि अगले बिल में देय होगी। बिजली का इस्तेमाल कम होने की स्थिति में अगर बिल 1000 रुपये से कम है और किसान द्वारा जमा की गयी राशि अधिक है तो बीच की राशि किसान के खाते में जमा कर दी जाएगी। इससे लाभार्थी बिजली की बचत करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

किसान मित्र ऊर्जा योजना का उद्देश्य और लाभ

राजस्थान के किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर करने और कृषि उपभोक्ता को बिजली की बचत में प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना की शुरुआत की गयी है।

  • राज्य के सभी मीटर कृषि किसानों को हर महीने 1000 रुपये से ले कर 12000 रुपये प्रति वर्ष तक का अनुदान दिया जायेगा जिसके लिए 1450 करोड़ रुपये प्रति वर्ष का बजट निर्धारित किया गया है।
  • द्विमासिक बिलिंग व्यवस्था के तहत विद्युत वितरण निगम सभी पात्र लाभार्थी को बिजली बिल जारी करेगा और योजना के तहत सब्सिडी का लाभ प्रदान करेगा।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आनुपातिक आधार पर लाभार्थी को 60% बिजली बिल हर महीने जमा करना होगा।

Click here for Emitra Rajasthan

पात्रता और मानदंड

  • लाभार्थी राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक कृषि उपभोक्ता होना चाहिए।
  • आवेदन करने का आधार कार्ड बैंक खाते से लिंक होना चाहिए।
  • राज्य और केंद्र सरकार के आयकर और सरकारी कर्मचारी इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे।

आवश्यक दस्तावेज

  • स्थाई प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता

Click Here for Rajasthan ration card List

मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना 2023 में आवेदन कैसे करें?

राजस्थान के जो कृषि उपभोक्ता मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना के लिए पात्र है और इसमें आवेदन करना चाहते है वे सबसे पहले अपने पास के विद्युत विभाग में जाये।

  • विद्युत विभाग में आपको मित्र ऊर्जा योजना में आवेदन करने के लिए एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिलेगा। इस फॉर्म में आपको आपका नाम, मोबाइल नंबर, बैंक खाते की जानकारी आपके कृषि उपभोक्ता होने की जानकारी देनी होगी।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी हुई सारी जानकारी ध्यान से भरनी है और साथ ही सभी जरूरी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करना है।
  • अब आपको फॉर्म और सभी दस्तावेजों को विद्युत विभाग जाकर जमा करना है। इस प्रकार आप इस योजना में आवेदन कर सकते है।

दोस्तों Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana 2023 का ये आर्टिकल अच्छा लगा तो अपने साथी किसानों के साथ इसे अवश्य शेयर करें और उन्हें इस योजना में आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित करें। अगर आपके पास इस योजना में आवेदन से संबंधित कोई सवाल या फिर कोई सुझाव है तो कमेंट के जरिये हम से साझा करे। राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही अन्य योजनाओं की जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट के मेनू बार पर जाएँ और राजस्थान की कैटेगरी पर क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *