Bihar Mukhyamantri Udymi Yojana 2023-24 | बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना आवेदन

Bihar Mukhyamantri udymi Yojana 2023-24 | बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना आवेदन

अगर आप बिहार राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवा या युवती हैं और अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का सपना देख रहे हैं तो आज हम आपको राज्य में चल रही एक ऐसी खास योजना के बारे में जानकारी देने वाले हैं जिससे आपको आपके इस सपने को साकार करने में सहायता मिलेगी। इस योजना का नाम है ‘बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना’ जो कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुरू की गई एक ब्याजमुक्त ऋण योजना है जिसका उद्देश्य शिक्षित बेरोजगार युवा, महिला और पिछड़े वर्गों के नागरिकों को ऋण प्रदान करके स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करना है। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। योजना संबंधी संपूर्ण जानकारी के लिए पोस्ट को पूरा पढ़ें।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना | Mukhyamantri Udyami Yojana

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना बिहार के सीएम नितीश कुमार द्वारा शुरू एवं उद्योग विभाग द्वारा संचालित की जा रही एक ब्याज मुक्त ऋण योजना है जिसके तहत राज्य सरकार लाभार्थियों को सूक्ष्म उद्यम स्थापित करने के लिए 10 लाख रुपए का लोन यानी ऋण प्रदान करती है। इस योजना के लिए 200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ₹25000 की प्रोत्साहन राशि, 5 लाख रुपए की सब्सिडी और 5 लाख रुपए का लोन प्रदान किया जाता है। इस लोन की मदद से लाभार्थी अपना स्वरोजगार शुरू करके अपने बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं और अन्य बेरोजगारों को रोजगार दे सकते हैं।
मुख्यमंत्री उद्यमी योजना कुल चार योजनाओं का मिश्रण है जिसमें मुख्यमंत्री युवा भूमि योजना, मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/जनजाति उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना शामिल हैं। इसमें से प्रत्येक योजना के तहत दो-दो हजार लाभार्थियों का चयन किया जाना है और फिर इन चयनित लाभार्थियों को योजना के तहत 10 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी जिसमें से ₹500000 ऋण के होंगे और ₹500000 सब्सिडी के तौर पर दिए जाएंगे।

योजना के उद्देश्य

  • बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में सूक्ष्म और लघु इकाई को बढ़ावा देना है।
  • योजना के अंतर्गत 8000 लोगों को लाभ मिलेगा जिसमें से 2000 महिलाएं होंगी।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में बेरोजगारी की दर में काफी हद तक गिरावट आएगी और स्वरोजगार की संख्या बढ़ेगी।
  • राज्य में सूक्ष्म उद्यम स्थापित होंगे और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।
  • इससे न केवल युवा अपना खुद का रोजगार शुरू कर आत्मनिर्भर बनेंगे बल्कि दूसरों को भी रोजगार सृजन कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की पहली किस्त जारी (New Update)

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2023-24 के तहत 16 नवंबर 2023 को गुरुवार के दिन बिहार की राजधानी पटना में स्थित बापू सभागार में आयोजित एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यक्रम के दौरान योजना की पहली किस्त जारी की गई। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी को चुना गया था। योजना के प्रत्येक लाभार्थी के बैंक खाते में पहली किस्त के रूप में चार-चार लाख रुपए की राशि भेजी गई। आपको बता दें, जिन लाभार्थियों का योजना के तहत प्रथम चरण प्रशिक्षण पूरा हो चुका है और जिन्होंने अपना चालू खाता पोर्टल पर अपलोड कर रखा है उन्हें योजना की पहली किस्त प्रदान की जाती है। अपर मुख्य सचिव ने जानकारी दी है कि योजना के लक्ष्य अनुसार बचे हुए लाभार्थियों का चयन 4 दिसंबर को कंप्यूटर लॉटरी के माध्यम से किया जाएगा।

तीन वर्गों में लिए गए आवेदन

नई अपडेट के मुताबिक इस बार कौशल विकास प्रशिक्षण प्राप्त व्यक्ति को प्राथमिकता दी गई है। योजना के अंतर्गत तीन वर्गों में आवेदन मांगे गए वर्ग ए, वर्ग सी एवं वर्ग सी। वर्ग ए में 58 प्रक्षेत्र शामिल किए गए थे जिसमें ₹4000 उद्यमियों का चयन किया गया। वर्ग बी में चर्म, वस्त्र, खाद्य प्रसंस्करण तथा अन्य प्राथमिक प्रक्षेत्र के लिए 3500 उद्यमियों का चयन किया गया। वहीं वर्ग सी के लिए बियाड़ा के औद्योगिक क्षेत्र में चर्म एवं वस्त्र उद्योग लगाने वाले 500 उम्मीदवारों का चयन किया गया। वर्ग ए एवं बी के लिए जिलेवार लक्ष्य तय किए गए जबकि ‘वर्ग सी’ के लिए राज्य के हर औद्योगिक क्षेत्र के लिए आवेदन स्वीकारे गए। एक व्यक्ति अपने आधार नंबर के जरिए तीनों में से किसी एक वर्ग के लिए ही आवेदन कर सकते हैं।

दूसरे चरण के लिए करें आवेदन

हाल ही में बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की पहली किस्त वितरित की गई तो वहीं योजना के तहत दूसरी किस्त के लिए आवेदन 1 नवंबर 2023 से शुरू हैं जो 30 नवंबर 2023 तक पूरे किए जाएंगे। इस बार राज्य सरकार ने राज्य के 8000 नागरिकों को उद्यमी बनाने का लक्ष्य रखा था जिसके अंतर्गत सितंबर माह तक का आवेदन लिए गए। इस वर्ष योजना के लिए अब तक 1.5 लाख से भी अधिक लोगों द्वारा आवेदन किया गया, वहीं पिछले वर्ष इसके अंतर्गत 2.30 लाख आवेदन प्राप्त किए गए थे

पात्रता मानदंड
  • बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2023-24 में आवेदन करने के लिए उम्मीदवार अनिवार्य रूप से बिहार का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • Mukhyamantri Udyami Yojana योजना के अंतर्गत एससी,एसटी, ओबीसी एवं महिला वर्ग आवेदन कर सकते हैं।
  • उम्मीदवार की कम से कम आयु 18 वर्ष और अधिकतम 50 वर्ष हो सकती है।
  • उम्मीदवार कक्षा 10+2 या इंटरमीडिएट, पॉलिटेक्निक, आईटीआई, डिप्लोमा या इसी के समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • योजना के तहत अगर उम्मीदवार एंटरप्रेन्योर है तो उसका चालू खाता/ करंट अकाउंट होना चाहिए और अगर कोई फर्म है तो उस फर्म के नाम से चालू खाता होना चाहिए।
  • योजना के तहत लोन प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को किसी राष्ट्रीयकृत बैंक से स्वयं घोषणा करना अनिवार्य है।
  • यह योजना युवा एवं युवतियां दोनों के लिए है।
जरूरी दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • दसवीं का रिजल्ट (जन्मतिथि वेरीफाई करने के लिए)
  • इंटरमीडिएट, पॉलिटेक्निक, आईटीआई, डिप्लोमा या इसी के समकक्ष योग्यता का
  • प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो (120KB)
  • सिग्नेचर (120KB)
  • द्द किया गया चेक

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लाभ

  • प्रशिक्षण तथा परियोजना निगरानी के लिए सरकार द्वारा लाभार्थियों को प्रोत्साहन राशि के रूप में ₹25000 प्रदान किए जाएंगे।
  • योजना के तहत नए उद्यमियों को उद्यम स्थापित करने के लिए प्राथमिकता प्रदान की जाएगी और सभी लाभार्थियों को बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति का लाभ मिलेगा।
  • योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को चयन के बाद ₹25000 प्रति इकाई प्रशिक्षण के लिए आर्थिक सहायता के रूप में दिए जाएंगे।
  • Mukhyamantri Udyami Yojana के माध्यम से दिए जाने वाले 10 लाख रुपए की ऋण राशि पर 50% या फिर अधिकतम 5 लाख रुपए का अनुदान (सब्सिडी) प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत परियोजना लागत का 50% या फिर अधिकतम 5 लाख रुपए ब्याज मुक्त ऋण जमा करना होगा।
  • 10 लाख रुपए की राशि में ₹500000 अनुदान के रूप में दिए जाते हैं और ₹500000 ब्याजमुक्त ऋण के रूप में मिलता है।
  • इस ऋण की राशि को लौटाने के लिए लाभार्थी को 7 वर्षों का समय दिया जाएगा जिसे लाभार्थी को 84 सामान किस्तों में जमा करना होगा।

Click Here for Bihar Ration card List

आवेदन प्रक्रिया

  • मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में आवेदन करने के लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें:-
    सबसे पहले उद्योग विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।

bihar-Udhami-Yojana

  • यहां आपको पंजीकरण का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • अब स्क्रीन पर नया पेज खुलेगा इसमें अपना आधार नंबर व पासवर्ड सेट करें और लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपके सामने योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा। इसमें पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भर दें।
  • अब फॉर्म को सबमिट करके रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करें और इसकी रसीद प्राप्त करें।
    अब दोबारा से पोर्टल में जाकर लॉगिन करें।
  • लॉगिन करने पर आपके सामने स्किन पर योजना का आवेदन फार्म खुलेगा जिसमें पूछी गई सभी जानकारी दर्ज कर देनी है।
  • अब इसमें मांगे गए सभी डाक्यूमेंट्स को अपलोड करके आवेदन फॉर्म सबमिट कर दें और इसकी रसीद का प्रिंट आउट निकलवा कर भविष्य के लिए सुरक्षित रख ले।

Click here for Bihar Kanya Utthan Yojana

Bihar Udyami Yojana Selection List ऐसे देखें

  • बिहार उद्यमी योजना लाभार्थी लिस्ट में अपना नाम चेक करने के लिए आप सबसे पहले उद्योग विभाग बिहार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट पर जाते ही आपके सामने स्क्रीन पर इसका होम पेज नजर आएगा।
  • इसके बाद आपको नवीनतम गतिविधियों के अंतर्गत ‘मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2023 का रॉन्डमाइजेशन परिणाम जानने के लिए रिक्तियों के विरूद्ध औपबंधिक रूप से चयनित आवेदकों की सूची के लिए यहाँ क्लिक करें ’ का विकल्प मिलेगा इस पर क्लिक कर दें।

bihar-Udhami-Yojana-result

  • ऐसा करते ही आपके स्क्रीन पर सभी चयनित लाभार्थियों की सूची खुल जाएगी इसमें आप अपना नाम चेक कर लें।
योजना के अन्तर्गत चयन प्रक्रिया

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया के लिए औद्योगिक विभाग के अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में 11 सदस्यों की कमेटी बनाई गई है जिसके माध्यम से लाभार्थियों का चयन किया जाएगा और योजना के अंतर्गत प्रोजेक्ट एवं राशि का मूल्यांकन भी कमेटी द्वारा किया जाएगा।

आवेदनकर्ता जिस जिले में इकाई स्थापित करना चाहते हैं उन्हें वहां का स्थाई निवास प्रमाण पत्र देना अनिवार्य होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *