बिहार कृषि क्लिनिक योजना 2024 | Bihar Krishi Clinic Scheme 2024

बिहार कृषि क्लिनिक योजना 2024 | Bihar Krishi Clinic Scheme 2024

दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं हमारा देश कृषि प्रधान है हम सब किसानों पर निर्भर हैं किसान हमारे अन्नदाता है इसलिए उन्हें जरुरत की सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जानी अनिवार्य है जिससे कि बिना किसी परेशानी के वे अपने काम पूरे कर सकें और खुद का और अपने परिवार का बेहतर अच्छा जीवन यापन कर सकें। इस मुद्दे पर ध्यान केंद्रित करते हुए हमारे देश की प्रत्येक राज्य सरकारें एवं केंद्र सरकार द्वारा किसानों के जीवन कल्याण व उनके हितों की रक्षा करने के लिए और उन्हें जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकारी योजनाएं चलाई जाती हैं।

कृषि क्लिनिक योजना क्या है ?

कृषि क्लिनिक योजना बिहार सरकार द्वारा शुरू की जा रही है खास नई योजना है जिसके तहत सरकार अपने राज्य के किसानों को एक स्थाई कार्यालय में कृषि व फसल उत्पादन से संबंधित सभी सेवाएं एवं समस्याओं का समाधान प्रदान करेगी। इस योजना के जरिए किसानों को स्थाई स्तर पर कृषि से जुड़ी सभी सुविधाओं का लाभ मिल सकेगा। कृषि क्लिनिक में किसानों को फसलों के विषय में रोग एवं खेती से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत सरकार युवाओं को कृषि क्लिनिक खोलने के लिए अनुदान भी प्रदान करेगी। इस प्रकार इस योजना से युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।

Bihar Krishi Clinic Scheme 2024 Online Registration

आपको बता दें हाल ही में बिहार सरकार द्वारा अपने राज्य के किसानों की सहायता के उद्देश्य से एक नई योजना का शुभारंभ किया जा रहा जिसका नाम ‘बिहार कृषि क्लिनिक योजना’ रखा गया है।

इस योजना के अंतर्गत राज्य की सरकार राज्य के मूल किसानों की आय में वृद्धि करने के साथ ही फसलों के उत्पादन एवं उत्पादकता को बढ़ाने और फसलों की गुणवत्ता में सुधार लाने का प्रयास करेगी। इस योजना के माध्यम से किसान अब अपनी फसलों से संबंधित सभी समस्याओं का समाधान एक ही स्थान पर आसानी से प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा किसानों को सभी कृषि गतिविधियों के लिए भी कई सुविधाओं का लाभ मिल सकेगा।

अब तक देश में केवल मानव एवं पशुओं के लिए ही क्लिनिकें खोली गई लेकिन अब इस योजना के माध्यम से ब्लॉक स्तर पर कृषि क्लिनिकें खोली जाएंगी जहां किसान अपनी कृषि संबंधी सभी गतिविधियों एवं खेती व फसलों आदि से जुड़ी सभी समस्याओं का समाधान प्राप्त कर पाएंगे। अगर आप भी बिहार राज्य के मूल नागरिक हैं और इस योजना का लाभ लेने के लिए योजना संबंधी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो कृपया इस लेख को पूरा पढ़ें।

बिहार कृषि क्लिनिक योजना का उद्देश्य

बिहार कृषि क्लिनिक योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को राज्य के किसी भी क्षेत्र में फसल उत्पादन से संबंधित सेवाएं एवं इससे संबंधित सभी समस्याओं का समाधान प्रदान करना है। इसमें मुख्य तौर पर मैदानी परीक्षण सुविधा, पौध सुरक्षा व पौध प्रतिरक्षण के लिए जरूरी उपकरण, बीज विश्लेषण सुविधा, पीड़करोग संबंधित सुझाव व इसके अलावा स्थानीय स्तर पर तकनीकी विस्तृत जानकारी आदि की सुविधाएं शामिल की जाएंगी। इन सभी सुविधाओं को मुहैया कराने के लिए राज्य के सभी 101 उप-प्रशासनिक विभागों में कृषि क्लिनिक स्थापित किए जाएंगे जिससे कि किसानों को फसलों के उत्पादन एवं गुणवत्ता से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां आसानी से मिल सके।

इस योजना के माध्यम से राज्य में कृषि उत्पादन में वृद्धि एवं उत्पाद की गुणवत्ता सुधार होगा जिससे किसानों की आमदनी बढ़ेगी और साथ ही किसानों को उनके फसलों के होने वाले नुकसान से राहत मिलेगी।

Click here for Bihar DBT yojana

बिहार कृषि क्लिनिक योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • बिहार राज्य सरकार द्वारा शुरू की जा रही कृषि क्लिनिक योजना के माध्यम से राज्य के किसान भाइयों को कृषि गतिविधियों एवं फसलों से जुड़ी सभी समस्याओं का समाधान एक ही छत के नीचे उपलब्ध किया जाएगा जिससे किसानों को इधर-उधर भाग दौड़ करने से राहत मिलेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार राज्य में जगह-जगह अनेक कृषि क्लिनिक खुलवाएगी और सरकार द्वारा कृषि क्लिनिक योजना के लिए 424 लाख रुपए के बजट को मंजूरी दी गई है।
  • योजना के तहत खोली जाने वाली उन सभी कृषि क्लिनिकों में सरकार युवाओं के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करेगी।
  • बिहार सरकार योजना के तहत सभी 101 उप-प्रशासनिक विभागों में कृषि क्लिनिकों की स्थापना करवाएगी।
  • कृषि क्लिनिक खोलने के लिए राज्य सरकार इस योजना के अंतर्गत ₹200000 की अनुदान राशि प्रदान करेगी और साथ ही योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को निशुल्क प्रशिक्षण का लाभ भी दिया जाएगा।

Bihar-Krishi-Clinic-jaankari

  • इस योजना के माध्यम से किसानों को बागवानी एवं फसलों में कीटनाशकों पर 75% का अनुदान प्राप्त होगा।
  • इस योजना का लाभ देकर किसानों की फसलों के उत्पादन, उत्पादकता एवं गुणवत्ता में वृद्धि की जाएगी
  • जिससे किसानों की आय में वृद्धि होगी परिणामस्वरूप किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
    ग्रामीण स्तर पर कुल 202 युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे इस तरह राज्य में कुछ हद तक बेरोजगारी दर कम होगी।

बिहार कृषि क्लिनिक योजना के अंतर्गत राज्य के 202 ब्लॉकों में खुलेंगी कृषि क्लिनिक

आपको बता दें, कृषि क्लिनिक योजना के कार्यान्वयन के लिए राज्य सरकार अपने राज्य के सभी 101 उप- प्रशासनिक विभाग/अनुमण्डलों में कृषि क्लिनिक स्थापित कराएगी। प्रत्येक अनुमंडल के दो प्रखंडों/ब्लॉक में कृषि क्लिनिक स्थापित की जाएगी। यानी कुल मिलाकर राज्य के 202 प्रखंडों/ब्लॉकों में कृषि क्लिनिक खोली जाएगी एक प्रशासनिक विभाग के ब्लॉक मुख्यालय में और दूसरा किसी भी चयनित ब्लॉक मुख्यालय में कृषि क्लिनिक की स्थापना की जाएगी। इस योजना के संचालन से ग्रामीण स्तर पर 202 युवाओं को रोजगार के अवसर दिए जाएंगे।

कृषि क्लिनिक खोलने हेतु सरकार देगी सब्सिडी का लाभ

बिहार कृषि क्लिनिक योजना के तहत कृषि क्लिनिक स्थापित करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में 5 लाख रुपए दिए जाएंगे। कृषि क्लिनिक खोलने के लिए लगने वाली कुल लागत ₹500000 तय किया गया है जिस पर सरकार के द्वारा 40% तक का अनुदान दिया जाएगा। यानी इस योजना के अन्तर्गत राज्य सरकार कृषि क्लीनिक खोलने के लिए ₹200000 की सहायता का अनुदान देगी बाकी की लगने वाली लागत का जिम्मा योजना के लाभार्थी को स्वयं उठाना पड़ेगा। योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चयनित लाभार्थियों को कृषि क्लिनिक स्थापना के लिए निशुल्क प्रशिक्षण (ट्रेनिंग) भी दिया जाएगा।

किसानों को फसलों में कीटनाशक छिड़काव के लिए मिलेगा अनुदान

बिहार कृषि क्लिनिक योजना के माध्यम से किसानों को फसलों में कीटनाशक छिड़काव के लिए भी अनुदान राशि देने का प्रावधान किया गया है। फलदार वृक्षों जैसे आम, अमरूद, लीची, अनार आदि में लगने वाले कीट से बचाव के लिए सरकार सेवा प्रदाता के माध्यम से सहायक उपकरण के लिए 75% का अनुदान प्रदान करेगी। इसके अलावा राज्य के सभी किसानों को विभिन्न प्रकार के कीट प्रबंधन में 75% अनुदान, फोरोमोन ट्रैप, स्टिकी ट्रैप एवं लाइफटाइम ट्रैक पर 2 हेक्टेयर और टाल क्षेत्र में 5 हेक्टेयर का अनुदान प्रदान करेगी।

बिहार कृषि क्लिनिक योजना के लिए पात्रता (Eligibility Criteria)

  • बिहार कृषि क्लिनिक योजना के तहत आवेदन के लिए उम्मीदवार बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • योजना की पात्रता सूची में उन उम्मीदवारों को शामिल किया जाएगा जिन्होंने कृषि स्नातक, कृषि व्यावसायिक
  • प्रबंध स्नातक और राज्य के केंद्रीय विश्वविद्यालय से कृषि उत्थान में स्नातक किया हो।
  • इसी के साथ उम्मीदवार को ICAR या UGC द्वारा मान्यता प्राप्त होनी चाहिए।
  • इसके अतिरिक्त उपायुक्त पात्रता के अनुपलब्ध होने पर उम्मीदवार को कृषि उद्यान में काम से कम 2 वर्ष का
  • अनुभव प्राप्त डिप्लोमा या कृषि विषय में इंटरमीडिएट तथा रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान एवं वनस्पति विज्ञान में स्नातक होना चाहिए।
  • आवेदक का बैंक खाता उसके आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है।
आवश्यक दस्तावेज (Required Documents)
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • योग्यता दस्तावेज
  • भूमि के दस्तावेज
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज की फोटो
आवेदन प्रक्रिया (How to Apply)

अगर आप बिहार राज्य के मूल नागरिक भाई/बहन हैं और बिहार कृषि क्लिनिक योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए अभी आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। दरअसल इह योजना को बिहार राज्य में अभी लागू नहीं किया गया है इसलिए योजना के तहत आवेदन संबंधी कोई भी खास जानकारी सार्वजनिक तौर पर साझा नहीं की गई है और न ही अब तक योजना की आधिकारिक वेबसाइट लांच की गई है लेकिन जैसे ही राज्य सरकार द्वारा योजना लागू की जाती है हम आपको लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे ताकि आप योजना के लिए अपना आवेदन दे सके और इसका लाभ उठा सके। बिहार सरकार ने वित्त वर्ष 2023-24 में कृषि क्लिनिक योजना के प्रचालन हेतु 424 लाख रुपए के बजट को मंजूरी प्रदान की है अब जल्द ही राज्य में योजना को लागू करके आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी और राज्य के 202 ब्लॉकों में कृषि क्लिनिक स्थापित किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *